Skip to main content

Posts

Showing posts from March, 2016

जमनु मोबाइल कु

दगड्यों यु जमनु देखो कन ऐ ग्यायी,
अब त हथ-हथ म मोबाइल व्है ग्यायी।
कूड़ी पुंगड़ी की चर्चा भी मोबाइल म हुण लैग्यायी,
पुंगड़ी त बंजे ही गी अर कूड़ी भी उज्ड़ण्या व्है ग्यायी।
मिलणी कखै खेती-पाती बल बांदर ली ग्यायी,
बची-खुची खेती म बल सुंगर खडोला खैण्ड ग्यायी।
कूड़ी बणावा बल लैंटर वली लीपा-पोथी कु जमनु नि रायी,
ब्वारि उठणी आठ बजी बोल्दी बल रात व्हाट्सऐप भिंडी व्है ग्यायी।
पैली बोडी चौका का तिरोली बिटि गाली दींद छाई,
अर अब बल बोडी भी गाली व्हाट्सऐप फ़ेसबुक म दीण लैग्यायी।
वे जमना का खाणु म क्या रस्याण छाई,
यु निरभै जमनु त अदकच्ची खाणा कु ऐग्यायी।
रेडु, घड़ी, सीडी, अख़बार, पत्रिका सब लुप्त व्है ग्यायी,
किलै की गालू म त अब यु मोबाइल जु झुन्टे ग्यायी।अनोप सिंह नेगी(खुदेड़)
9716959339

कपिल डोभाल

नमस्कार दोस्तों कपिल डोभाल एक ऐसा नाम है जिसे शायद बहुत कब लोग जानते है लेकिन जो जानते है शायद वो इनके कार्यो से भली प्रकार से अवगत होंगे। व्यक्तिव तो उनका ऐसा है कि जो एक बार मिल ले तो शायद ही कभी उनको भुला सके, यही कारण है की आज उत्तराखण्ड के अधिकांश युवा वर्ग उनसे जुड़ा है, युवा ही क्या बल्कि हर वर्ग।
जी हां दोस्तों आप बिल्कुल सही सोच रहे है ये वही है जिन्होंने अपना पूरा जीवन उत्तराखण्ड के लिए समर्पित कर दिया। ये चेहरा सामने इसलिए नही आया क्योंकि वो लीडर बनने से अधिक कार्य में विश्वास रखते है। आज उत्तराखण्ड में चकबंदी अभियान अपनी मंज़िल तक पहुँच चूका है बस कुछ कदम पीछे है। इस अभियान को यहाँ तक पहुचाने में इन्ही का योगदान रहा है। इस क्रांति की शुरुआत भले ही गणेश जी ने की है, परन्तु सफल बनाने में और इस आवाज़ को जन जन तक पहुचाने में इन्होंने किसी प्रकार की कमी नही छोड़ी।
आज वो चाहे तो एक बेहतर जीवन जी सकते है, लेकिन समाज के लिए अपने उत्तराखण्ड के लिए जो कुछ कर गुजरने की जो ललक उनमें है तो हमारा फ़र्ज़ बनता है की हम भी उनको पूर्ण सहयोग दे। उनके इस निःस्वार्थ कार्य में क्यों न हम भी भागीदार…

यू नेतौ खुण रुणु च उत्तराखण्ड

कन काल लगी यी नेता उत्तराखण्ड फर,
घचोलि घचोलि की कैरयाल उतणडण्ड,
कुई इनै बटि कुई उनै बटि घचोलणु च,
आज सैरु उत्तराखण्ड यू नेतौ खुण रुणु च।

कन राऊ लग्या यी नेता उत्तराखण्ड फर,
भैर करो देशी घ्यू अपणो थै खवाणा कल्चुण्ड,
कुई घ्वाड़ो थै त कुई मनिख़्यो थै थुरणु च,
आज सैरु उत्तराखण्ड यू नेतौ खुण रुणु च।

कन गुर्राऊ लगी यी नेता उत्तराखण्ड फर,
हुंकार फुंकार ई की कैरयाल चौखण्ड,
जै थै जनै सज आणि च उनै ई रगोड़णु च,
आज सैरु उत्तराखण्ड यू नेतौ खुण रुणु च।

कन हंत्या लगी यी नेता उत्तराखण्ड फर,
घर गौ की हालत कैरयाली उजाड़खण्ड,
जै जन सार आणि च उनी सरकुणु च,
आज सैरु उत्तराखण्ड यूं नेतौ खुण रुणु च।

कन ग्रहण लगी यी नेता उत्तराखण्ड फर राजनीतिक माहौल घर-घर बणयु च भैर-भितरखण्ड युंकी आग म गौ-गौ उत्तराखण्ड कु भलकुणु च आज सैरु उत्तराखण्ड यूं नेतौ खुण रुणु च।
अनोप सिंह नेगी(खुदेड़) 9716959339

सिंगोरी

नमस्कार दोस्तों आज आपके सामने एक ऐसे खाद्य पदार्थ के बारे में जानकारी लेकर आया हूँ जिसका नाम सुनते ही आपके मुह में पानी आ जायेगा यह उपलब्ध होता है उत्तराखण्ड में। जी हां तश्वीर को देखकर आप समझ ही गए होंगे की बात हो रही है किसी मीठे खाद्य पदार्थ की। टिहरी से इसे पहचान मिली है, शहरो में जिस प्रकार हम कुल्फ़ी आदि का स्वाद लेते है देखने में यह भी कुछ ऐसा ही लगता है, लेकिन दोस्तों यह है सिंगोरी जिसे लोकल भाषा में में सिंगोड़ि या सिंगौरी के नाम से भी जाना जाता है। उत्तराखण्ड के साथी तो शायद इससे परिचित ही होंगे लेकिन बाकि साथियो को बताते चले की यह एक मिठाई की तरह ही है जो की शुद्ध खोया से बनती है और मालु के पत्ते में परोसी जाती है यह कलाकन्द की तरह ही एक मिठाई है। दोस्तों यदि आप भी इस मिष्ठान का स्वाद लेना चाहते है तो इसमें बहुत अधिक समय और सामान की आवश्यकता नही पड़ती है आप घर पर भी इसे तैयार तो कर सकते है लेकिन इसे खाने का असली स्वाद तो मालु के पत्तो में ही आता है। इसके लिए आवश्यकता होती है:-
खोया, बारीक़ सफ़ेद चीनी, नारियल, कुछ गुलाब के फूल बारीक़ सूखे पिसे हुए, और परोसने के लिए मालु के पते।सब…

Dard Kisan Ka

नमस्कार दोस्तों आज कुछ अलग लिखने का मन किया तो सोचा क्यों न वो लिखू जो हक़ीक़त है जिसकी हमारे देश में हर किसान को जरूरत है। 
गत कुछ महीनों पहले मैं उत्तराखण्ड के एक ऐसे अभियान से जुड़ा जो की हमारे लिए और उत्तराखण्ड के विकास के लिए बहुत ही आवश्यक है, यदि इस अभियान को कामयाबी मिलती है तो जरूर हमारा उत्तराखण्ड विकास की ओर अग्रसर ही नही बल्कि विकास की सीमा के अंतर्गत होगा। जी हां दोस्तों आप बिल्कुल सही समझे मैं बात कर रहा हूँ "गरीब क्रांति अभियान" की। इस विषय पर भी जरूर अपनी आगे आने वाले लेख में लिखुंगा। यह अवसर मुझे प्राप्त हुआ की मैं भी इस अभियान का एक छोटा सा सदस्य बना। इसके लिए मई भाई अनूप पटवाल जी का धन्यवाद करना चाहूँगा की उन्होंने मुझे इस अभियान से जोड़ा नही तो शायद चकबंदी है क्या मैं इसी सवाल में उलझ कर रह जाता। दोस्तों आप भी जरूर अपना योगदान अवश्य इस अभियान को दीजिये।      फ़िलहाल मैं अपने उस यात्रा वृतांत को लिख रहा हूँ जो मैंने चकबंदी दिवस समारोह गैरसैण के लिए जाते हुए देखा और किसानो की समस्याओ को सुना। तो आइये दोस्तों जाने क्या है ये समस्याएं। यदि आप सहमत हो तो अप…

दगड्यों आण कैन कैन

चला गैरसैण हिटा गैरसैण
बतावा दगड्यों आण कैन कैन
मी भी हिटु तुम भी हिटा
पहाड़ो मा कारा अब अपणु रैण सैणचला गैरसैण हिटा गैरसैण
बोला दगड्यों आण कैन कैन
चकबन्दी होली त दगड्यों
एक ही साम बुते जालु मर्च मुंगरी दैणचला गैरसैण हिटा गैरसैण
बोला भै बंधु पौछण कैन कैन
आज हथ खुटा हिलैली
ऐथर तभी ठाठ से रैणचला गैरसैण हिटा गैरसैण
बोला दगड्यों वक़्त निकलण कैन कैन
पहाड़ तेरु भी पहाड़ मेरु भी
चकबन्दी कु समर्थन सदा करदी रैणअनोप सिंह नेगी(खुदेड़)
9716959339
www.khudeddandikanthi.in
www.facebook.com/khudeddandikanthi
www.twitter.com/khudeddandikant
youtube.com/खुदेड़डाँडीकाँठी

बुरांश शरबत के लाभ Rhododendron

बुरांश उत्तराखण्ड का राज्य पुष्प है, इसे राज्य पुष्प बनाने के कई महत्वपूर्ण कारण है। यह पुष्प उत्तराखण्ड के घने जंगलो में पाया जाता है। बुरांश एक औषधीय पुष्प भी है शोध से पता चलने के बाद इससे कई दवाइयों का निर्माण भी किया जा रहा है।
        बुरांश के शरबत का प्रयोग शारीरिक विकास, खासी, बुखार, खून की कमी पूरी करने के लिए किया जाता है। लीवर से सम्बंधित समस्याओ का उपचार भी बुरांश के शरबत में है बुरांश (Rhododendron) के फूल में पोली फैटी एसिड प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जिसके कारण ये कोलेस्ट्रोल नही बनने देता है खास तौर से बुरांश का शरबत हृदय रोगियो के लिए लाभदायक है। इसके प्रतिदिन एक गिलास सेवन से हृदय रोग समाप्त हो जाता है।
        बुरांश के शरबत से हिमोग्लोबिन की कमी भी पूरी होती है। शारीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में बुरांश एक महत्वपूर्ण औषधि है। सम्पूर्ण उत्तराखण्ड में बुरांश की लगभग पन्द्रह प्रजातिया पाई जाती है परन्तु अधिक प्रयोग लाल बुरांश का ही किया जाता है, ।
      यदि आप भी खाशी, बुखार, खून की कमी, हड्डियों के दर्द, कोलेस्ट्रोल की समस्याओ से दूर रहना चाहते ह…